Trending
Search

अपनी इस बहू पर धनबाद को है गर्व

धनबाद: लांग ड्राइव पर जाना तथा खाना बनाना इन्हें काफी पसंद है. स्वभाव सरल, दोस्ताना व भावनात्मक है. जब वह किडनी के मरीजों को देखती हैं, तो व्याकुल हो उठती हैं. वैसे 24 वर्षीया निधि जायसवाल अंदर से मजबूत इरादों वाली महिला हैं. निधि इन दिनों चर्चा में हैं. वह मिसेज इंडिया क्वीन ऑफ सबस्टेंस के 25 फाइनलिस्ट में शामिल की गयी हैं. प्राकृतिक सुंदरता के लिए जाने जाने वाले मैथन के वनमेढ़ा की रहनेवाली निधि का अब अगले पड़ाव की तरफ ध्यान लगाये हुए हैं. वह मिसेज इंडिया महज शोहरत व पैसों के लिए नहीं बनना चाहती हैं, बल्कि अपने स्वर्गीय पिता की तकलीफ दूसरों के माध्यम से दूर करना चाहती हैं. प्रतियोगिता में सफल रहने पर जो पैसे मिलेंगे, वह जनसेवा पर खर्च करना चाहती हैं. तीन वर्षीय बेटे की मां निधि जायसवाल कुमारधुबी निवासी अपने पिता संतोष जायसवाल की एक वर्ष पूर्व किडनी की बीमारी से हुई मौत से अब तक नहीं उबरी हैं. पिता के असामयिक निधन ने निधि के मन-मस्तिष्क को झकझोर दिया. जरूरतमंद व वैसे गरीब लोग, जिनकी मौत पैसों के अभाव में किडनी की बीमारी से हो जाती है या इलाज नहीं करा पाते हैं, का सहयोग उन्होंने अपने जीवन का उद्देश्य बना लिया.
आगे बढ़ने की सोच से मिली सफलता

निधि ने इंटरनेट पर सर्च कर केंद्र सरकार की देखरेख व सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बाद गठित सामाजिक संस्था मिसेज इंडिया क्वीन ऑफ सबस्टेंस के बारे में जानकारी ली. वह कहती हैं, ‘जब मिसेज इंडिया क्वीन ऑफ सबस्टेंस के बारे में विस्तृत जानकारी ली तो लगा कि मेरा सपना पूरा होने वाला है. संस्था पूरे भारत में विभिन्न गैर सरकारी संगठनों के सहयोग से शिक्षा, महिला सशक्तीकरण, स्वास्थ्य, कैंसर चिकित्सा में सहयोग, अनिवार्य बाल शिक्षा सहित अन्य सामाजिक बुराई के लिए काम करती है,’ उन्होंने कहा, ‘मैंने संस्था के मुख्य कार्यालय दिल्ली में अधिकारियों से संपर्क साधा. वर्ष 2017 में आयोजित होने वाली मिसेज इंडिया क्वीन ऑफ सबस्टेंस में प्रवेश पाने के लिए ऑनलाइन कई परीक्षाओं का सामना करना पड़ा.’ निधि ने मेधावी परीक्षा, टैलेंट राउंड, पोशाक राउंड, खेल प्रतियोगिता, फोन इंटरव्यू का सामना किया. देश भर से एक हजार से अधिक महिलाएं इसमें शामिल हुईं.

हाल ही में फाइनलिस्ट के लिए अंतिम रूप से प्रतियोगियों की घोषणा हुई. 25 चयनित महिलाओं में निधि का भी चयन हुआ है. वह 12 से 17 अप्रैल, 2017 तक दिल्ली में हाेनेवाली प्रत्यक्ष प्रतियोगिता में भाग लेंगी. इन्हीं 25 महिलाओं में से एक के सिर पर मिसेज इंडिया क्वीन ऑफ सबस्टेंस का ताज होगा. विनर, प्रथम रनर अप व दूसरे रनर अप का चयन वैश्विक स्तर पर मिसेज अर्थ व मिसेज यूनिवर्स के रूप में होगा.

प्रोफाइल

नाम – निधि जायसवाल

पति – सोनू कुमार, व्यवसाय व ट्रांसपोर्टर
पिता – स्व. संतोष जायसवाल

माता – प्रभा जायसवाल
शिक्षा – डी-नोबली मैथन से मैट्रिक, बीएसएस महिला कॉलेज से इंटर, वर्तमान में बीएसएस महिला कॉलेज, धनबाद में स्नातक अंगरेजी प्रतिष्ठा अंतिम वर्ष की छात्रा हैं

निवास – गणपति अपार्टमेंट वनमेढ़ा, मैथन




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *