Trending
Search

2018 की दिवाली पर नई ‘हाथी मेरे साथी’, साउथ के ‘बाहुबली’ स्टार ने ली राजेश खन्ना की जगह

बाहुबली के भल्लाल देव एक बार फिर हिंदी सिनेमा के पर्दे पर लौटने वाले हैं, मगर भल्लाल यानि राणा दग्गूबटी की वापसी इस बार एक ऐसी फ़िल्म से हो रही है, जो 1971 की बाहुबली फ़िल्म मानी जाती है। इस फ़िल्म ने उस दौर में कामयाबी के नए रिकॉर्ड कायम किये थे।

ये फ़िल्म है हाथी मेरे साथी, जिसमें राजेश खन्ना और तनुजा ने लीड रोल्स प्ले किये थे। एक अनाथ और हाथियों के साथ दोस्ती पर आधारित जंगल बुक टाइप की इस फ़िल्म को एमए थिरूमुगम ने डायरेक्ट किया था, जबकि स्टोरी-स्क्रीनप्ले सलीम-जावेद का था। हाथी मेरे साथी 1971 की सबसे बड़ी बॉक्स ऑफ़िस हिट और क्रिटिक्ली सक्सेसफुल फ़िल्म थी। इसके साथ किसी साउथ इंडियन फ़िल्ममेकर द्वारा बनायी गयी सबसे कामयाब हिंदी फ़िल्म का ख़िताब भी हाथी मेरे साथी को मिला। हाथी मेरे साथी राजेश खन्ना की उन बैक टू बैक 15 हिट फ़िल्मों का हिस्सा है, जो 1969 से 1971 के बीच रिलीज़ हुई थीं।

हाथी मेरे साथी अब हिंदी, तमिल और तेलुगु में बनायी जा रही है, जिसके डायरेक्शन की ज़िम्मेदारी तमिल फ़िल्ममेकर प्रभु सोलोमन ने उठायी है, जिनका ये हिंदी डेब्यू होगा। फ़िल्म को पुरानी हाथी मेरे साथी को ट्रिब्यूट के तौर पर बनाया जा रहा है। हालांकि कहानी नयी और कुछ सत्य घटनाओं पर आधारित होगी। फ़िल्म की शूटिंग जनवरी 2018 में थायलैंड में शुरू होगी और देश में भी कई हिस्सों में शूट की जाएगी। हाथी मेरे साथी की रिलीज़ अगले साल दिवाली पर तय की गयी है।

राजेश खन्ना की फ़िल्म इत्तेफ़ाक़ के रीमेक को हाल ही में रिलीज़ किया गया, जिसमें सिद्धार्थ मल्होत्रा, सोनाक्षी सिन्हा और अक्षय खन्ना ने लीड रोल्स निभाये। निखिल आडवाणी निर्देशित कल हो ना हो राजेश खन्ना की फ़िल्म आनंद को ट्रिब्यूट के तौर पर बनायी गयी थी, जिसमें शाह रुख़ ख़ान, प्रीति ज़िंटा और सैफ़ अली ख़ान ने लीड रोल्स प्ले किये थे।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *