Trending
Search

दिल्ली में लंका ने विराट को दिया झटका, यह वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने से रोका

दिल्ली टेस्ट का आखिरी दिन टीम इंडिया के लिए नहीं रहा. विराट ब्रिगेड श्रीलंका को समटने से 5 विकेट दूर रह गई. और श्रीलंकाई मध्यक्रम के ठोस प्रदर्शन ने भारत को दिल्ली टेस्ट जीतने से रोक दिया. इसके साथ ही कप्तान विराट कोहली कप्तान के तौर पर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने से चूक गए.

इंटरनेशनल क्रिकेट (तीनों प्रारूप) के एक कैलेंडर ईयर में कप्तान के तौर पर सर्वाधिक जीत की बात करें, तो यह रिकॉर्ड अब संयुक्त रूप से (31-31) रिकी पोंटिंग और विराट कोहली के नाम हैं. पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान पोंटिंग ने 2005 में सर्वाधिक 31 जीत हासिल की थी. दिल्ली टेस्ट जीतकर विराट उस रिकॉर्ड को तोड़ने से चूक गए.

विराट इस साल और नहीं खेलेंगे. हालांकि टीम इंडिया को इस महीने 3 वनडे और इतने ही टी-20 मैच खेलने हैं. अगर विराट ने इन दोनों सीरीज से आराम नहीं लिया होता, विराट एक कैलेंडर ईयर में सर्वाधिक जीत का रिकॉर्ड अपने नाम करने से नहीं चूकते.

46 मैच, 31 जीत- रिकी पोटिंग, 2005 (1 जीत World XI के खिलाफ)

46 मैच, 31 जीत – विराट कोहली, 2017

46 मैच, 29 जीत – सनथ जयसूर्या, 2001

34 मैच, 29 जीत- रिकी पोंटिंग, 2003

27 मैच, 29 जीत  – रिकी पोंटिंग, 2007

 42 मैच, 29 जीत  – ग्रीम स्मिथ, 2007

दिल्ली टेस्ट की पहली पारी में दोहरा शतक (243 रन) जमाने वाले विराट से दूसरी पार में 50 रन बनाकर आउट हुए. 2017 में विराट की यह आखरी पारी रही. विराट इस साल इंटरनेशनल क्रिकेट में 68.73 की बेहतरीन औसत के साथ 2818 रन बनाने में सफल रहे. इस कामयाबी के बावजूद वह एक कैलेंडर ईयर में सबसे ज्यादा रन का रिकॉर्ड बनाने से चूक गए. अगर वह और 51 रन बना लेते तो कुमार संगकारा को पीछे छोड़ देते. जबकि और 16 रन बनाते ही रिकी पोंटिंग से आगे निकल जाते.

एक कैलेंडर ईयर में सर्वाधिक रन

2014: कुमार संगकारा, 2868 रन, औसत 53.11

2005: रिकी पोंटिंग, 2833 रन, औसत 56.66

2017: विराट कोहली, 2818 रन औसत 68.73




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *