Trending
Search

नतीजों के बाद PM नरेंद्र मोदी पर बरसे राहुल गांधी, बोले-खोखला है गुजरात मॉडल, लोग इसे नहीं मानते

कांग्रेस के नवनिर्वाचित अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात विधानसभा चुनाव के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर सीधे हमला बोलते हुए मंगलवार को कहा कि इन नतीजों से उनकी विश्वसनीयता पर सवाल उठ गया है। उन्होंने दावा किया कि प्रधानमंत्री मोदी की बात को देश नहीं सुन रहा है। राहुल ने संसद भवन परिसर में पत्रकारों से कहा, ‘‘ तीन चार महीने पहले जब हम गुजरात गए थे तो कहा गया था कि कांग्रेज भाजपा से नहीं लड़ सकती। तीन चार महीने में हमने ठोस काम किया। सिर्फ मैंने नहीं, एआईसीसी की टीम और गुजरात के लोगों ने भी। आपने नतीजे देखे हैं। भाजपा को गुजरात में जबरदस्त झटका लगा है। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘ हमारे लिए अच्छा नतीजा है। ठीक है कि हम हार गए। अगर थोड़ा और ठीक करते तो जीत जाते।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं गुजरात एवं हिमाचल प्रदेश के लोगों को दिल से धन्यवाद देता हूं। चुनाव जीतने वालों को बधाई देता हूं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ मुझे वहां पता चला कि मोदीजी का जो मॉडल है, उसे गुजरात के लोग मानते ही नहीं। प्रचार बहुत अच्छा है। (इसकी) मार्केटिंग बहुत अच्छी है पर अंदर से खोखला है। हमने जो अभियान चलाया, उसका वह जवाब नहीं दे पाए। विकास की बात कर रहे हैं पर सच्चाई यह है कि वह उसका जवाब नहीं दे पाए। आपने देखा होगा कि चुनाव से पहले मोदीजी के पास कहने के लिए कुछ रहा नहीं था।’’

राहुल ने गुजरात चुनाव प्रचार की चर्चा करते हुए कहा, ‘‘ आम तौर पर नेता जाता है और सोचता है कि गुजरात को मैं अपनी बात बताऊं। पर तीन महीने में गुजरात और वहां की जनता ने मुझे काफी सिखाया है। मुख्य बात यही सिखाई कि आपके विपक्ष में जितना भी क्रोध हो, जितना भी धन हो, जितना भी बल हो, उसे आप प्यार से, भाईचारे से टक्कर दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि यह बात गांधीजी ने बहुत पहले सिखाई थी। लेकिन यह बात गुजरात में है और बहुत गहरे तक है। आपने गुजरात के चुनाव में जो देखा, यह वही भावना है। उन्होंने कहा कि गुजरात ने भाजपा और प्रधानमंत्री मोदी को संदेश दिया है कि यह जो गुस्सा-क्रोध आपमें है, वह आपके काम नहीं आएगा। इसको प्यार हरा देगा।

विकास के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि इस चुनाव में प्रधानमंत्री ने कहा कि यह विकास का चुनाव है। उन्होंने बोला कि जीएसटी पर मुहर है। यह अजीब सी बात है कि चुनाव के दौरान उनके भाषणों में न तो विकास की बात हो रही थी और न जीएसटी की, न नोटबंदी की। उन्होंने कहा, ‘‘मोदी जी की विश्वसनीयता पर बहुत बड़ा सवाल उठ गया है। उनके लिए यह बहुत मुश्किल होगा। वो जो कह रहे हैं…वह देश सुन नहीं रहा है, यह बात गुजरात ने दिखाई है। यह आपको आने वाले समय में बहुत आसानी से दिखेगा। मोदीजी ने भ्रष्टाचार की बात लगातार की। आपने राफेल के मामले में, जय शाह के मामले में एक शब्द भी नहीं बोला।’’ बताते चलें कि गुजरात की 182 विधानसभा में भाजपा को 99 और कांग्रेस को 77 तथा हिमाचल प्रदेश में भाजपा को 44 एवं कांग्रेस को 21 सीटें मिली हैं।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *