Trending
Search

रांची बंद के दौरान हंगामा, लाठीचार्ज; 200 गिरफ्तार

झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) और झारखंड कर्मचारी चयन आयोग की परीक्षाओं में आरक्षण का अनुपालन नहीं होने का आरोप लगाते हुए आदिवासी छात्र संघ समेत कई आदिवासी-मूलवासी संगठनों की ओर से आज एकदिवसीय रांची बंद के दौरान जमकर हंगामा हुआ। इस दौरान करीब 200 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

आदिवासी-मूलवासी संगठनों के रांची बंद के दौरान आज छात्रों ने रांची यूनिवर्सिटी में जमकर हंगामा किया। इस दौरान पुलिस ने कई छात्रों को गिरफ्तार कर लिया है। जेपीएससी में आरक्षण के नियमों का पालन न करने को लेकर छात्रों ने रांची यूनिवर्सिटी में हंगामा किया।

छात्रों को गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस को कड़ी मसक्कत करना पड़ा। इस मौके पर छात्रों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। आदिवासी सेंगल के सदस्यों ने राजभवन के पास धरना दिया। खूंटी से काफी लोग पहुंचे हैं।

राजभवन के पास सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। अतिरिक्त पुलिस फोर्स लगाया गया है। हंगामा करने पर पुलिस कानूनी करवाई कर सकती है।

बहुबाजार चौक के निकट से पुलिस ने कई बंद समर्थकों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार बंद समर्थकों में आदिवासी-मूलवासी संघ के अध्यक्ष राजू महतो, गणेश दास, निर्मल कुमार, निशांत तिर्की समेत कई कार्यकर्ता शामिल थे। आदिवासी हॉस्टल के निकट से भी पुलिस ने बड़ी संख्या में छात्र-छात्राओं को गिरफ्तार कर कैंप जेल भेज दिया। बंद को लेकर रांची में सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए थे।

रांची को 9 जोन में बांटा गया था। 100 दंडाधिकारियों और 700 से अधिक पुलिस कर्मियों की तैनाती की गई। हर प्रमुख चौक चौराहे पर दंडाधिकारियों के नेतृत्व में पुलिस बलों की प्रतिनियुक्ति के साथ ही अग्निशमन वाहन, वज्रवाहन, रैफ और महिला पुलिस बल की तैनाती की गई है। वरीय पुलिस अधीक्षक कुलदीप द्विवेदी खुद सुरक्षा तैयारियों की मॉनिटरिंग कर रहे हैं और स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं।

आदिवासी सेगेल आंदोलन का पैदल मार्च खूंटी से राजभवन पहुंचा। इसमें हजारों लोग शामिल हैं। इनकी मांग है कि भूमि अधिग्रहण संशोधन बिल रद किया जाए। धर्मांतरण कानून रद हो। पांचवीं अनुसूची लागू की जाए। सरना कोड लागू हो। पैदल मार्च में वदना टेटे, चंद्रदेव उराव, मार्शल बारला सहित हजारों लोग शामिल हैं।

आरक्षण अधिकार मोर्चा के क्रान्तिकारी युवा नेता को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसे पुलिस कोतवाली थाना ले गई। साथ में मनोज यादव भी है। अजय को गिरफ्तार करने के लिए पुलिश को छात्रो से काफी बहस करनी पड़ी।

रांची बंद के दौरान 200 से अधिक बंद समर्थकों को गिरफ्तार कर बिरसा मुंडा फुटबॉल स्टेडियम के कैम्प जेल में रखा गया है। बन्द समर्थक में युवा नेता संतोष कुमार तिलेश नायक दिलीप रे मनोज यादव सुनील मेहता चंदन कुशवाहा रूपेश कुमार संजय महली आदि को गिरफ्तार किया गया। अजय चौधरी को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस के साथ काफी झड़प हुई। उसके बाद लाठीचार्ज किया,  जिसमें सन्तोष कुमार रूपेश कुमार तिलेश नायक जीवन चंदन कुशवाहा सुनील मेहता दिलीप राय आदि को गिरफ्तार कर स्टेडियम ले गई।

अजय चौधरी को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस के साथ काफी झड़प हुई। उसके बाद लाठीचार्ज किया। अजय चौधरी चारों ओर से घेर कर कोतवाली थाना ले गई एवम संतोष कुमार एवम अन्य साथियों को जिसमें सन्तोष कुमार के साथ रूपेश कुमार तिलेश नायक जीवन चंदन कुशवाहा सुनील मेहता दिलीप राय आदि को गिरफ्तार कर स्टेडियम ले गई। आरक्षण अधिकार मोर्चा के सदस्यों ने पुलिस के साथ जमकर हाथापाई की।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *